191 Sad Shayari

sad-shayari

दिल के समुन्दर में एक गहराई हैउसी गहराई से तुम्हारी याद आई हैजिस दिन हम भूल जाये आपकोसमझ लेना हमारी मोत आई है हम उम्मीदों की दुनियां बसाते रहे,वो भी पल पल हमें आजमाते रहे,जब मोहब्बत में मरने का वक्त आया,हम मर गए और वो मुस्कुराते रहे। उसकी मोहब्बत का सिलसिला भी क्या अजीब था, …

Read more

149 Sad Shayari

sad-shayari

जिन्हें महसूस इंसानों के रंजो-गम नहीं होते,वो इंसान भी हरगिज पत्थरों से कम नहीं होते। हम अजनबी थे जब तुम बातें खूब किया करते थेअब सना साईं है तो तुम हमको याद भी नहीं करते जो प्यार करतें है वो बड़े अजीब होतें हैं,उन्हें खुशी के बदले गम नसीब होते है,न करना तू प्यार कभी …

Read more

291 Sad Shayari

sad-shayari

मेरे मुक़द्दर को भी गिला रहा है मुझसे,कि किसी और का होता तो संवर गया होता। तुम्हारे लिए मिट जाने का हौंसला रखते थे,लेकिन तुम ही मिटा दोगे यह नहीं जानते थे || अकेले ही गुज़रती है ज़िन्दगी…लोग तसल्लियां तो देते हैं पर साथ नहीं। वक्त⏰जब आँखे👁️फेर लेता है ..शेर🦁को तो कुत्ता🐕भी घेर लेता है….!! …

Read more

171 Sad Shayari

sad-shayari

मैं अपनी चाहतों का हिसाब करने जो बेठ जाऊ,तुम तो सिर्फ मेरा याद करना भी ना लोटा सकोगे……!!! कौन कहता है कि मुसाफिर ज़ख्मी नही होते,रास्ते गवाह है, बस कमबख्त गवाही नही देते। बिख़री-बिख़री सी है हम दोनों की ये ज़िन्दगी, तुझे सुकून की चाहत है और मुझे तेरी !! करली तसल्ली दिल तोड के …

Read more

270 Sad Shayari

sad-shayari

मेरे कलम से लफ्ज़ खो गए सायदआज वो भी बेवफा हो गाए सायदजब नींद खुली तो पलकों में पानी थामेरे ख्वाब मुझपे रो गाए सायद उलझने, दर्द, बेबसी और बदतर हालात…ऐ ‘ज़िन्दगी’ इसके सिवा कुछ ना दिया तूने..!! मैंने इश्क से पूछा तेरे रास्ते मे इतनी मुश्किलें क्यों आतीं हैं, तो इश्क ने हंस कर …

Read more

271 Sad Shayari

sad-shayari

ए काजल तुम्हारे शहर का मौसम बरा सुहाना लगे,, मैं एक शाम चुरा लूं अगर तुझे बुरा ना लगे,, बदल जाओ वक्त के साथया फिर वक्त बदलना सीखोमजबूरियों को मत कोसोहर हाल में चलना सीखो एक उमर बीत चली है तुझे चाहते हुए,तू आज भी बेखबर है कल की तरह। जिंदगी में कोई प्यार से …

Read more